Smart Keyword Research For Blogging Ultimate guide in Hindi

Author: Kumar Sree


Keyword Research के लिए google keyword planner tool का प्रयोग कर low competition keyword और long tail keyword कैसे ढूंढे। Keyword discovery और keyword search volume दो अहम् भाग हैं blog article के लिए।

keyword research for blogging

आम तौर पर जब हम नए नए ब्लॉग्गिंग सुरु करते हैं तब हम लोग आँख मूँद कर अच्छे से अच्छे आर्टिकल लिखते हैं और साल भर इस असमंजस में ब्यतीत करते हैं के आखिर ऐसा क्या हुआ के , ब्लॉग आर्टिकल पर कोई विजिटर नहीं आ रहे और किसी भी प्रकार की इनकम में बदलाव नहीं हो रहे हैं। 

इसलिए हमें समझना होगा के ब्लॉग्गिंग में हम ब्लॉग आर्टिकल लिखते हैं और ब्लॉग आर्टिकल के लिए सबसे पहला अहम् कदम होता है "Keyword Research" और बगैर कीवर्ड रिसर्च किये हुए आर्टिकल शायद ही गूगल के सर्च रिजल्ट पर नजर आये। 

Why do Keyword Research is essential for blogging?

चलिए जानते हैं ब्लॉग्गिंग के लिए कीवर्ड रिसर्च इतना अहम् क्यों हैं ? ब्लॉग्गिंग के बारेमे थोड़ी बहुत समझ रखते हों तो आप जरूर समझते होंगे के ब्लॉग्गिंग से अछि इनकम होती है और अछि इनकम के लिए ब्लॉग्गिंग वेबसाइट पर हमें ढेर सारे विजिटर चाहिए। इन विजिटर को 'ट्रैफिक' भी कहा जाता है। 

और ये विजिटर / ट्रैफिक ब्लॉग वेबसाइट पर कैसे आते हैं ?

फेसबुक से, ट्विटर से, तुमब्लर से, क्वोरा से, गूगल से और कुछ डायरेक्ट ब्राउज़र में ब्लॉग वेबसाइट को खोल कर ब्लॉग्गिंग साइट पर पहुँचते हैं। 

 गूगल से अगर ट्रैफिक मिले तो उसको 'आर्गेनिक ट्रैफिक' (Organic Traffic) कहते हैं। साधारण शब्दों में कहें तो सर्च रिजल्ट पर अगर एक ब्लॉग आर्टिकल का लिंक नजर आये और विजिटर उस लिंक को क्लिक कर उस ब्लॉग आर्टिकल पेज पर पहुंचे तो उस प्रकार के ट्रैफिक को आर्गेनिक ट्रैफिक कहा जाता हैं।

और सफल ब्लॉग्गिंग का सारा खेल आर्गेनिक ट्रैफिक के बारेमे हैं। आर्गेनिक ट्रैफिक के लिए हमें कीवर्ड रिसर्च करनी होगी। कीवर्ड रिसर्च को जानने से पहले समझना होगा कीवर्ड किस बला का नाम हैं ? 

What is a keyword?

अब तक हमनें समझ लिया ब्लॉग्गिंग के लिए आर्गेनिक ट्रैफिक चाहिए और आर्गेनिक ट्रैफिक के लिए हमें हमारा ब्लॉग आर्टिकल को सर्च रिजल्ट में पहुँचाना होगा। ये संभव है सिर्फ कीवर्ड रिसर्च से। अब ये कीवर्ड क्या है ?

चलिए एक मिसाल से समझते हैं।  मैंने कल टीवी पर देखा और समझा अवधी बिरयानी का स्वाद लाजवाब है। अब ठान लिया इस रविवार घर पर में अवधी बिरयानी बनाऊंगा। लेकिन इसकी बनाने की विधि मुझे नहीं मालूम। तो में क्या करूँगा ? गूगल खोलूंगा, उस में टाइप करूँगा 'अवधी बिरयानी रेसिपी' और मुझे कई सारे रिजल्ट नजर आएंगे। फिर उसमे से में एक एक कर हर रिजल्ट के वेबपेज पर जाऊंगा जब तक मुझे एक अछि अवधी बिरयानी बनाने की रेसिपी ना मिल जाए। 

Keyword Research

आम तौर पर हम गूगल पर एहि तो करते हैं। 

यहां पर ध्यान दीजिये मैंने गूगल के सर्च बॉक्स के अंदर टाइप किया था 'Avadhi Biryani Recipe' और इस को ही कीवर्ड कहा जाता है। जो भी टेक्स्ट हम लोग गूगल सर्च बॉक्स के अंदर लिख कर ढूंढ़ते हैं उसको कीवर्ड कहते हैं । कीवर्ड एक शब्द का भी हो सकता है और १०० से अधिक शब्दों का भी हो सकता है। 

यहाँ पर याद रखें गूगल के सर्च बॉक्स के अंदर विजिटर जो कोई भी टेक्स्ट लिख कर सर्च करता है वो है एक कीवर्ड। 

जब हम किसी कीवर्ड गूगल सर्च के अंदर ढूंढ़ते हैं तो उसके निचे हमेसा कीवर्ड संबधित सर्च रिजल्ट मिलते हैं। आम तौर पर हमें हर सर्च पर १० सर्च रिजल्ट मिलते हैं। 

और सबसे निचे अगर देखेंगे तो हमें कई सारे नंबर दिखेंगे। उन नंबर पर क्लिक करने पर हम सर्च रिजल्ट के उस पेज पर पहुँचते हैं। 

Search Result Page

हर एक पेज को "सर्च रिजल्ट पेज "(Search Result Page) कहा जाता है। शार्ट फॉर्म में "सर्प" (serp) भी कहते हैं। 

आपने इतनी बार गूगल प्रयोग किये होंगे , क्या आप कह सकते हैं आपने सबसे अधिक कितने पेज नंबर तक आपने विजिट किये हैं। 

शायद ज्यादा से ज्यादा १० पेज नंबर या फिर १५। कहने का मकशद ये है के जितने भी विजिटर गूगल पर जब सर्च करते हैं तब उनमे से ९०% लोग सिर्फ पहले सर्च रिजल्ट पेज पर रहते हैं। बचे हुए १० % में से आधे दूसरे सर्च रिजल्ट पेज पर जाते हैं। उनमे से बचे हुए लोग शायद ही बाकि के पेज पर जाते होंगे। 

इसका मतलब अगर ब्लॉग आर्टिकल गूगल सर्च रिजल्ट के अंदर पहले पेज पर अगर नहीं आ पाता है तो इसका साफ़ मतलब हुआ हमारे ब्लॉग आर्टिकल पर ट्रैफिक बहुत काम आएगा। 

और याद रखें सारा कम्पटीशन ब्लॉग्गिंग दुनिया में सिर्फ एक ही चीज़ को ले कर हैं के कैसे अपने ब्लॉग आर्टिकल को गूगल सर्च रिजल्ट पेज के पहले पैन में स्थान दिलाएं।

अगर आप गौर करोगे तो सर्च इंजन रिजल्ट पेज के पहले पैन पे जो सर्च रिजल्ट्स हैं , जो पहले स्थान पर है वो यूँ ही नहीं पहले स्थान पर है।  जो दूसरे स्थान पर है वो यूँ ही नहीं दूसरे स्थान पर है। 

इसका मतलब साफ़ है के गूगल जब किसी सर्च रिजल्ट तैयार करता है तो सबसे पहले अपने डेटाबेस में जितनी भी ब्लॉग आर्टिकल हैं उनकी सूचि तैयार करता है , फिर हर एक ब्लॉग आर्टिकल को वो नंबर देता है, जिस ब्लॉग आर्टिकल को सबसे अधिक नंबर मिला उसको पहला स्थान, और मिले हुए नंबर के हिसाब से ब्लॉग आर्टिकल के लिंक को वो सर्च रिजल्ट में सजा कर रखता है। 

यहाँ पर एक और बात हमें समझनी होगी के कम्पटीशन न सिर्फ गूगल के पहले सर्च रिजल्ट पेज पर आने की है बल्कि पहले सर्च रिजल्ट पेज के पहले स्थान तक पहुँचने की भी कम्पटीशन है। कारण जितने भी लोग गूगल पर कुछ भी ढूंढ़ते हैं उनमे से ९०% लोग सर्च रिजल्ट के पहले पन्ने में ही रुकते हैं। और उनमे से ९५ % लोग पहले स्थान पर स्थित वेबपेज की लिंक पर जाते हैं। 

इसका मतलब - किसी कीवर्ड पर लिखे हुए अपनी ब्लॉग आर्टिकल को अगर सर्च रिजल्ट पेज के पहले पन्ने के पहले स्थान पर पहुंचा दिया उसको लाखों में रोज ट्रैफिक मिलेगा।  और एक ब्लॉग साइट पर लाखों में ट्रैफिक का मतलब खूबसूरत निश्चित आमदनी। 

यहाँ पर एक साफ़ निस्कर्स उभर के मिला है हमें के पहले एक कीवर्ड चयन करना होगा और फिर उस कीवर्ड को केंद्रित कर के ब्लॉग आर्टिकल लिखनी होगी। 

 किस कीवर्ड पर ब्लॉग आर्टिकल लिखें , इस ढूंढ़ने की प्रक्रिया को "कीवर्ड रिसर्च" (Keyword Research) कहते हैं। 

Keyword Research

कैसे करें कीवर्ड रिसर्च ? कीवर्ड रिसर्च करने से पहले निर्णय लें किस विषय पर आप ब्लॉग आर्टिकल लिखना चाहते हैं। 

मान लीजिये मेरा एक वेबसाइट हैं जहाँ में रेसिपी (तरह तरह के खाना बनाने की विधि) के बारेमे आर्टिकल लिखता हूँ। इस बार मुझे आर्टिकल लिखने से पहले निर्णय लेना होगा कौनसे नए रेसिपी पर आर्टिकल लिखूं। मन में कई विचार आये और उनमे से जो सबसे अछि विचार मुझे लगा वो है "बिरयानी " | अब मैंने निर्णय लिया बिरयानी के ऊपर एक आर्टिकल लिखूं। 

अगर में अंदाज़ा लगाऊं लोग आखिर क्या गूगल पर बिरयानी को लेकर ढूंढ़ते होंगे तो कुछ निम्न प्रकार के कीवर्ड के आइडियाज मिल रहे हैं। 

- बिरयानी कैसे बनाएं 

-बिरयानी बनाने की विधि 

-बिरयानी गाओं जैसा कैसे बनाये 

-बिरयानी प्रेशर कुकर में कैसे बनाएं 

- बिरयानी को गैस स्टोव पर कैसे बनाएं 

अब सवाल मेरे सामने है के आखिर इनमे से कौनसा कीवर्ड की चयन करूँ। 

हमें हर बार वही कीवर्ड की चयन करने होंगे जो सबसे अधिक गूगल पर ढूंढे जाते हों। 

Keyword Search Volume

एक समय सिमा के अंदर कितने लोगों ने एक कीवर्ड को गूगल पर सर्च किया, उसको "कीवर्ड सर्च वॉल्यूम" (Keyword Search Volume) कहते हैं। 

तो हमें कहाँ से ये जानकारी प्राप्त होगी के आखिर किसी भी कीवर्ड का सर्च वॉल्यूम कितनी है?

गूगल का ही एक टूल हैं "गूगल कीवर्ड प्लानर" (Google Keyword Planner) और इस टूल की मदद से हम लोग किसी भी कीवर्ड पर सर्च वॉल्यूम कितनी हैं बड़े आरामसे पता कर सकते हैं। 

Google keyword planner tool

इस टूल की ख़ास बात ये है के हमें खुद से अंदाज़ा लगा कर कीवर्ड ढूंढ़ने की आवस्यकता नहीं है। इस टूल में हमें सिर्फ एक टारगेट टॉपिक डालनी हैं और लोग गूगल पर उस टारगेट टॉपिक संबधित क्या क्या ढूंढ रहे हैं और उनके सर्च वॉल्यूम कितने हैं वो साफ़ साफ़ बता देते हैं। 

Google Keyword Planner Tool

गूगल कीवर्ड प्लानर टूल बता रहा हैं बिरयानी कीवर्ड पर हर महीने १६५,०००  लोग सर्च करते हैं। ऊपर के पिक्चर में जो ब्लू कलर की और रेड कलर की पट्टी नजर आ रही है वो बता रहा है किस महीने कितने सर्च हुए थे। इससे एक साफ़ अंदाज़ा मिलता है के इस कीवर्ड की डिमांड कितनी है। 

और साथ ही साथ बिरयानी से मिलते जुलते दूसरे कीवर्ड लोग क्या सर्च कर रहे हैं और उनकी सर्च वॉल्यूम कितनी है, उसकी जानकारी भी ये टूल देता है। कुल ४००० से अधिक कीवर्ड कीजानकारी ये टूल दे रहा हैं और उनमे से कुछ कीवर्ड और उनके मंथली सर्चस की जानकारी निचे है। 

  • biryani-165000
  • chicken biryani-165000
  • veg biryani-60500
  • biryani near me-49500
  • mutton biryani-49500
  • egg biryani-40500
  • paradise biryani-33100
  • biryani by kilos-33100
  • hyderabadi biryani-27100
  • vegetable biryani-22200
  • dum biryani-18100

ऊपर दिए गए आंकड़ों से पता चल रहा है के चिकेन बिरयानी पर सबसे अधिक सर्च हो रहे हैं। अब सवाल ये हे के क्या इस कीवर्ड को चयन करना सही होगा ?

जवाब है नहीं। कारण जब भी कोई कीवर्ड का चयन करे न सिर्फ हम उसकी मंथली सर्च वॉल्यूम पता करें बल्कि कम्पटीशन भी पता करे। 

Keyword Competition

कीवर्ड कम्पटीशन मतलब एक कीवर्ड के लिए गूगल सर्च रिजल्ट में कितने रिजल्ट नजर आ रहे हैं। जितने कम रिजल्ट होंगे कम्पटीशन उतना कम होगा। 

चलिए देखते हैं चिकन बिरयानी कीवर्ड की कम्पटीशन कितना है ?

Keyword Competition

गूगल सर्च रिजल्ट में चिकेन बिरयानी कीवर्ड पर ४८१००००० रिजल्ट हैं। इसका मतलब गूगल में चिकन बिरयानी कीवर्ड को केंद्रित कर इतने सारे वेबपेज हैं। अब चलिए चिकन बिरयानी से मिलता जुलता दूसरा एक कीवर्ड के नतीजे देखते हैं। 

गूगल सर्च रिजल्ट

Google Search Result "pressure cooker chicken biryani recipe in hindi" - 384000 results हैं। 

अब आप ही तय करें कोनसा कीवर्ड पर ब्लॉट आर्टिकल लिखना ठीक होगा -

chicken biryani - 165000 monthly searches - 48100000 results

Pressure cooker chicken biryani recipe in hindi - 32000 monthly searches - 384000 results

इसमें ज्यादा गणित नहीं है। "Pressure cooker chicken biryani recipe in hindi" कीवर्ड सही रहेगा। कारण इसके मंथली सर्च वॉल्यूम भी अच्छा है और गूगल पर ३८४००० रिजल्ट सिर्फ हैं। 

यहाँ पर हमने क्या किया? यहाँ पर हमने "लौ कम्पटीशन कीवर्ड" (Low competition keyword) ढूंड के निकाला। 

Low Competition keyword

लौ कम्पटीशन कीवर्ड वो कीवर्ड होते हैं जो गूगल सर्च रिजल्ट में कम से कम रिजल्ट काउंट दे और मंथली सर्च ज्यादा से ज्यादा हो। 

याद रखें - इस तरह लम्बे कीवर्ड (जिसमे ३ से अधिक शब्द हों) उनको "लॉन्ग टेल कीवर्ड" (Long Tail Keyword) कहा जाता है। 

Long Tail Keyword

लॉन्ग टेल कीवर्ड वो कीवर्ड होते हैं जिनके ३ से अधिक शब्द हों। 

यहाँ पर समझने वाली बात ये है के एक शब्द वाले कीवर्ड पर कम्पटीशन हमेसा ज्यादा मिलेंगे और लॉन्ग टेल कीवर्ड्स पर कम्पटीशन कम। 

इसलिए हम हमेसा लॉन्ग टेल कीवर्ड चयन करें।  उस लॉन्ग टेल कीवर्ड का मंथली सर्च वॉल्यूम कीवर्ड प्लानर पर चेक करें। अगर मंथली सर्च वॉल्यूम १००० से अधिक है तो वो लॉन्ग टेल कीवर्ड ब्लॉग आर्टिकल के लिए उपयुक्त है। लॉन्ग टेल कीवर्ड मिलने के बाद कम्पटीशन चेक करेंगे। अगर गूगल सर्च रिजल्ट पर ५००००० से कम सर्च रिजल्ट हैं तो वो लॉन्ग टेल बिलकुल उपयुक्त है ब्लॉग आर्टिकल लिखने के लिए। 

कम्पटीशन का माहौल है। जैसे ही लॉन्ग टेल कीवर्ड मिले तुरंत ब्लॉग आर्टिकल लिखे। 

वैसे तो गूगल कीवर्ड प्लानर निशुल्क उपलब्ध हैं। लेकिन कीवर्ड मिलने के बाद हमें लॉन्ग टेल कीवर्ड ढूंडना पड़ता है फिर कम्पटीशन चेक करनी पड़ती है। 

क्या इससे आसान तरीका है जिसमे एक दो क्लिक पर ही हमें लौ कम्पटीशन हाई ट्रैफिक वाली लॉन्ग टेल कीवर्ड मिल जाये?

हाँ ऐसे टूल हैं किन्तु ये टूल फ्री में उपलब्ध नहीं हैं। इनके मासिक किराया है। ये टूल मासिक (४००० रूपए - २५००० रूपए) किराये पर उपलब्ध हैं। 

Paid Keyword Research Tool

निचे दिए गए टूल पेड हैं और भुगतान पर ही आप उपयोग कर पाएंगे। इन टूल की खाश बात ये है के ये आपको लौ कम्पटीशन हाई ट्रैफिक वाली कीवर्ड की सूचि हजारों की तागात में देंगे। 

1. Ahref Tool

2. SEMRUSH tool

3. KEYWORDTOOl.IO

4. Word Tracker

5. Moz

याद रखें - इन टूल्स की मदद के बगैर भी मैन्युअल तरीके से (जैसे ऊपर मैंने बताया है) हम लौ कम्पटीशन हाई ट्रैफिक लॉन्ग टेल कीवर्ड पता कर सकते हैं और उस पर आर्टिकल लिख सकते हैं। 

वैसे ये आर्टिकल था कीवर्ड रिसर्च के बारेमे।  तो क्या हम लोग अब तैयार हैं ब्लॉग आर्टिकल लिखने के लिए ?

जवाब है नहीं।हमें सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन और ट्रैफिक को गहराई से जानना होगा और उसके बाद हम लोग पूरी तरीके से तैयार हैं आर्टिकल लिखने के लिए।  


Leave a reply